Breaking News

पूर्व सैनिकों ने राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन, महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

देहरादून। महाराष्ट्र निवासी भारतीय नौसेना से सेवानिवृत वरिष्ठ नागरिक मदन शर्मा की आंख में चोट मारकर घायल करने को लेकर देहरादून में पूर्व सैनिकों ने मसूरी विधायक गणेश जोशी से मुलाकात कर उन्हें राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा और केन्द्र सरकार से अनुरोध किया है कि महाराष्ट्र में तत्काल राष्ट्रपति शासन लगाने की अनुशंसा की जाए।
शनिवार को मसूरी विधायक गणेश जोशी के कालीदास मार्ग स्थित आवास पहुॅचे पूर्व सैनिकों ने कहा कि महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार ने मानवता की हदें पार कर दी हैं। सीसीटीवी फुटेज में रिकार्ड के अनुसार सभी हंमलावर शिवसेना से थे और वर्तमान में वहां पर शिवसेना की ही सरकार है। पूर्व सैनिकों ने कहा कि क्या किसी नेता का कार्टुन फारवर्ड करने पर शिवसेना पूर्व सैनिक पर हमला करेगी? पूर्व सैनिकों ने इस घटना पर दुख व्यक्त करते हुए कहा कि यह घटना अत्यन्त निन्दनीय है और पूर्व सैनिक ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए राष्ट्रपति से अनुरोध करते हैं कि महाराष्ट्र में तत्काल अनुच्छेद 356 लागू किया जाए। उन्होंने कहा कि यह शिवसेना सरकार की संवैधानिक विफलता है क्योंकि वह संविधान से इतर राज्य का माहौल खराब कर रही है अतः अनुच्छेद 356 लागू किया जाना अति आवश्यक है।
विधायक गणेश जोशी ने कहा कि वाकई पूर्व सैनिक के साथ शिवसेना के कार्यकर्ताओं द्वारा की गयी यह कायराना हरकत है। उन्होनें कहा कि शिवसेना सरकार कभी कंगना रणौत को तो कभी पूर्व सैनिक मदन शर्मा पर हमला करवा रही है, जो किसी भी राज्य सरकार के संवैधानिक विफलता का संकेत है। उन्होनें भारत के राष्ट्रपति से अनुरोध किया है कि तत्काल महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार को बर्खास्त किया जाए और अनुच्छेद 356 कायम किया जाए ताकि महाराष्ट्र प्रदेश के सभी नागरिक अपने को सुरक्षित महसूस कर सकें। इस अवसर पर पूर्व सैनिक लीग के उपाध्यक्ष ले0 कर्नल बीएम थापा, कर्नल जीके चैना, कर्नल रघुवीर सिंह भण्डारी, पीबीओआर के केन्द्रीय अध्यक्ष पैराट्रूपर शमशेर सिंह बिष्ट, कैप्टन बीएस कुवंर, सुबेदार लाल सिंह रावत आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

स्वच्छता व सजगता से ही कोरोना, डंेगू जैसी महामारियों की रोकथाम संभवः अनिरूद्ध भाटी

हरिद्वार। शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक के आवाह्न पर हरिद्वार में भाजपा द्वारा चलाये जा ...

किसान विरोधी कृषि बिल वापस ले केंद्र सरकार

-केंद्र सरकार के किसान विरोधी बिल से उद्योगपतियों को होगा फायदा, किसानों को नहीं’ः अनिल ...