Breaking News

प0 दीनदयाल उपाध्याय (कोरनेशन) एवं महात्मा गांधी शताब्दी नेत्र चिकित्सालय की चिकित्सा प्रबन्धन समिति की बैठक जिलाधिकारी की अध्यक्षता में हुई सम्पन्न

देहरादून। महात्मा गांधी शताब्दी नेत्र चिकित्सा विज्ञान केन्द्र में प0 दीनदयाल उपाध्याय (कोरनेशन) एवं महात्मा गांधी शताब्दी नेत्र चिकित्सालय की चिकित्सा प्रबन्धन समिति की बैठक जिलाधिकारी आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में दोंनो चिकत्सालयों में उपलब्ध संसाधनों और बेहतर चिकित्सा सुविधाओं के विकास हेतु प्रस्तावित बजट पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गयी।
जिलाधिकारी ने चिकित्सालय की प्रबन्धन समिति को बजट खर्च में अन्य प्रशासनिक व परिचालन खर्च के मुकाबले दवा, स्वास्थ्य परीक्षण, पैथौलाॅजी इत्यादि सुविधाओं को देनें में प्राथमिकता से कार्य करने के निर्देश दिये। बजट निर्धारण के वित्तीय पहलुओं में मुख्य कोषाधिकारी का सहयोग लेने तथा भवन निर्माण व उपकराणों की खरीद के तकनीकी पहलुओं के सम्बन्ध में लोक निर्माण, जल संस्थान, सिंचाई विभाग जैसे तकनीकी विभागों का सहयोग लेने को कहा। वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए दोनों चिकित्सालयों के लिए 5 करोड़ रू0 के अनुमानित बजट का बैठक मे प्रस्ताव रखा गया, जिसके सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि पूर्व के लम्बित बीजक और साफ-सफाई से सम्बन्धित किये जाने वाले कार्यों का स्पष्ट विवरण प्रस्तुत करें। उन्होंने विज्ञापन तथा अन्य ऐसे खर्च जो राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम)  के अन्तर्गत किये जा सकते हैं एनएचएम से खर्च करनंे तथा अवशेष बजट को अन्य बेहतर स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास में खर्च करनें के निर्देश दिये। उन्होंने डाटा एन्ट्री आॅपरेटर की नियुक्ति के सम्बन्ध में कहा कि नियुक्ति से पूर्व वेतन देने का मद सुनिश्चित कर लें, किन्तु किसी भी दशा में यूजर चार्ज वाले मद से कार्मिकों का वेतन आहरण न करें। सीसीटीवी लगवाने के लिए जिलाधिकारी ने स्मार्टसिटी के अन्तर्गत प्रस्ताव प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
‘‘आवासीय परिसर में अनाधिकृत निवास कर रहे कर्मचारियों से खाली करायें आवास’’
जिलाधिकारी ने चिकित्सालय के आवासीय परिसर में अनाधिकृत रूप से निवास कर रहे कतिपय कर्मचारियों को 15 दिन के भीतर आवास खाली करने का नोटिस निर्गत करने, तत्पश्चात बलपूर्वक आवास खाली कराने की कार्यवाही करने के चिकित्सालय प्रबन्धन को निर्देश दिये। उन्होंने दोनों चिकत्सालयों को शीघ्रता से भारत सरकार के जैम पोर्टल पर पंजीकरण करवाने तथा प0 दीनदयालय उपाध्याय चिकित्सालय के भवन में संचालित हाॅयर सेन्टर फोर्टिज के किराये का भविष्य में निर्धारण के लिए जिलाधिकारी कार्यालय में आवेदन प्रस्तुत करने को कहा। साथ ही चिकित्सालयों में विभिन्न उपकरणों और निर्माण कार्यों की टैण्डरिंग प्रक्रिया को भी नियमानुसार समय से पूर्ण करने को निर्देशित किया।
इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डाॅ मीनाक्षी जोशी, मुख्य कोषाधिकारी नरेन्द्र सिंह, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक कोरनेशन व गांधी शताब्दी चिकित्सालय डाॅ बीसी रमोला सहित सांसद प्रतिनिधि, क्षेत्रीय विधायक राजपुर प्रतिनिधि व मेयर नगर निगम देहरादून के प्रतिनिधि  सदस्यों के साथ ही सम्बन्धित चिकित्सक उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

12वीं की परीक्षा में एसओएस चिल्ड्रेन्स विलेजेज के छात्रों ने किया उत्कृष्ट प्रदर्शन

भीमताल। भीमताल के एसओएस चिल्ड्रेन्स विलेजेज के छात्रों ने सीबीएसई 12 वीं कक्षा की परीक्षा ...

प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 3785 पहुंची

देहरादून। उत्तराखंड में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। बुधवार को ...