Breaking News

नए पैटर्न के आधार पर होंगी उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षाएं

देहरादून : उत्तराखंड बोर्ड ने इस बार बोर्ड परीक्षाओं के पैटर्न में बदलाव करने का फैसला किया है। पांच विषयों के प्रश्नपत्रों के पैटर्न में यह बदलाव दिखाई देगा। छात्रों के मार्गदर्शन के लिए बोर्ड ने वेबसाइट पर संशोधित पैटर्न के मॉडल प्रश्नपत्र भी अपलोड कर दिए हैं। उत्तराखंड बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन की वेबसाइट पर ऑनलाइन पेपर से छात्र अभ्यास कर सकते हैं। बोर्ड के इस कदम से छात्रों को परीक्षा की तैयारी और पुराने मॉडल पेपर के लिए भटकना नहीं पड़ेगा।

छात्रों को मिलेगा मार्गदर्शन

बोर्ड परीक्षा में छात्रों को तैयारी के लिए उत्तराखंड बोर्ड ने अपनी वेबसाइट पर पिछले सालों के प्रश्नपत्र भी उपलब्ध कराए हैं। बीते साल भी बोर्ड ने छात्रों को यह सुविधा प्रदान की थी, लेकिन इस बार बोर्ड ने छात्रों को सभी प्रकार के विषयों से जुड़े बोर्ड के प्रश्नपत्र उलब्ध कराए हैं।

सभी विषयों के पेपर ऑनलाइन

बोर्ड की वेबसाइट पर साल 2017 इंटरमीडिएट के हिंदी, कैमिस्ट्री, फिजिक्स, इंग्लिश, संस्कृत, मैथेमैटिक्स, बायोलॉजी, इकनोमिक्स, हिस्ट्री, पॉलिटिकल साइंस, ज्योग्राफी, अकाउंटेंसी, बिजनेस स्टडीज और ड्रॉइंग एंड पेंटिंग आदि विषयों के प्रश्नपत्र उपलब्ध हैं।

इसके अलावा हाईस्कूल परीक्षा 2017 के हिंदी, इंग्लिश, सोशल साइंस के प्रश्नपत्रों के साथ साल 2016 के होम साइंस, साइंस प्रैक्टिकल और कृषि के पेपर अपलोड किए गए हैं। छात्र बोर्ड की वेबसाइट लॉग इन कर पुराने प्रश्नपत्रों व मॉडल पेपर डाउनलोड कर सकते हैं।

नए पैटर्न पर होगी परीक्षा 

उत्तराखंड बोर्ड इस बार हाईस्कूल व इंटरमीडिएट परीक्षाओं में नवीन प्रयोग करने जा रहा है। इस बार जहां एक ओर प्रवेश पत्र के पीछे परीक्षा का पूरा कार्यक्रम अंकित होगा, वहीं उत्तराखंड बोर्ड ने इस बार परीक्षा के पैटर्न में भी बदलाव किया है। बोर्ड ने हाई स्कूल में गणित व इंटरमीडिएट में गणित, भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान व जीव विज्ञान के स्वरूप में परिवर्तन किया गया है।

बोर्ड ने समस्त हाईस्कूल और इंटरमीडिएट शासकीय, अशासकीय, अशासकीय वित्तविहीन विद्यालयों की प्रीबोर्ड परीक्षा-2018 और परिषदीय परीक्षा 2018 का आयोजन नवीन संशोधित पैटर्न के आधार पर करने का फैसला किया है। इसी को देखते हुए बोर्ड ने संशोधित नवीन पैटर्न को भी वेबसाइट पर अपलोड किया है। ताकि छात्रों को इस वर्ष बोर्ड परीक्षाओं में किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े।

पांच मार्च से हैं बोर्ड एग्जाम

उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद की हाइस्कूल और इंटरमीडिएट की बोर्ड परीक्षाएं अगले साल पांच मार्च से शुरू होंगी। इन परीक्षाओं का समापन 24 मार्च को होगा। प्रदेशभर के 2.81 लाख परीक्षार्थियों के लिए सभी 13 जिलों में 1309 परीक्षा केंद्र बने हैं। इससे पहले एक फरवरी से 28 फरवरी तक प्रयोगात्मक परीक्षाएं होंगी। एक अप्रैल से बोर्ड की कॉपियों की जांच शुरू होगी। जांच का कार्य 15 अप्रैल तक चलेगा।

पांच जून तक परीक्षा का परिणाम घोषित हो जाएगा। बोर्ड परीक्षाओं के लिए वक्त कम है। ऐसे में ऑनलाइन उपलब्ध मॉडल पेपर छात्रों के मार्गदर्शन में फायदेमंद साबित होंगे। बोर्ड के अध्यक्ष आरके कुंवर ने बताया कि बड़ी संख्या में छात्र व शिक्षक ऑनलाइन पेपर का फायदा उठा सकते हैं।

शिक्षकों को चाहिए कि वह बोर्ड परीक्षा देने वाले छात्र-छात्राओं को पुराने प्रश्न पत्र हल करने को दें। इससे छात्रों को जहां बोर्ड के पैटर्न को समझने में मदद मिलेगी, वहीं समय प्रबंधन करना भी सीखने को मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

भाना म्यूजिक बैनर ने ‘‘तेरा ठुमका’’ गढ़वाली गीत का किया विमोचन

देहरादून। आज अपर आदर्श नगर निकट 6 नंबर पुलिया के पास भाना म्यूजिक के बैनर ...

चारधाम परियोजना के क्लीयरेंस के लम्बित प्रकरणों को समयबद्धता के साथ निपटाया जाए

देहरादून। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी, वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, सड़क ...