Breaking News

वेलमेड हॉस्पिटल में पद्मश्री डॉ. यश गुलाटी हड्डी रोग विशेषज्ञ ने दी सेवाएं, 63 लोगों ने उठाया लाभ

देहरादून।  टर्नर रोड़, क्लेमेंट टाउन स्थित वेलमेड हॉस्पिटल में शुक्रवार को पद्म श्री व डॉ. बीसी राय आवार्ड से सम्मानित हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. यश गुलाटी ने अपनी ओपीडी सेवा दी। जिसमें 63 मरीजों ने अपने स्वास्थ्य की जांच कराई।
वेलमेड हॉस्पिटल के चैयरमैन डॉ. चेतन शर्मा जी ने बुके देकर डॉ. यश गुलाटी का स्वागत किया। डॉ. चेतन शर्मा जी ने कहा कि वेलमेड़ हॉस्पिटल का उद्देश्य उत्तराखंड के लोगों को हर बीमारी का इलाज देना है, और उसके लिए वह हर संभव प्रयास करेगें। उन्होंने बताया कि वेलमेड हॉस्पिटल में सारी सुविधाएं एक ही छत के नीचे उपलब्ध है, लेकिन कई बार लोग भ्रमित होकर इलाज कराने के लिए दिल्ली जाते हैं, ये सोचते हुए कि शायद वहां ज्यादा बेहतर इलाज मिलता है, जबकि वहां उन्हें ज्यादा खर्चे के साथ – साथ कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए हमने दिल्ली को ही अपने पास बुला लिया है, ताकि हमारे प्रदेश के लोग अपने ही शहर में बेहतर व किफायती इलाज करवा पाएं।
       वरिष्ठ  हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. यश गुलाटी ने पहली बार देहरादून में अपनी सेवाएं दी है। वेलमेड हॉस्पिटल की इस पहल के कारण अब देहरादूनवासियों को आधुनिक विधि द्वारा ज्वाइंट रिप्लेसमेंट के लिए दिल्ली जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी क्योंकि डॉ. यश गुलाटी महीने में एक दिन वेलमेड हॉस्पिटल में ओपोडी व बाकी प्रोसीजर करेंगे।  डॉ. यश गुलाटी अपोलो हॉस्पिटल के वरिष्ठ हड्डी रोग विशेषज्ञ हैं। इन्होंने तीन पूर्व राष्ट्रपति व पूर्व प्रधानमंत्री का इलाज भी किया है। साथ ही ये कई राजदूतों के फैमिली डॉक्टर भी रह चुके हैं। इनके उत्कृष्ठ कार्य के लिए भारत सरकार ने इन्हें पद्म श्री व डॉ. बीसी राय आवार्ड से नवाजा है। डॉ. यश गुलाटी को ज्वाइंट रिप्लेसमेंट में महारत हासिल है, इतना ही नहीं वह ऑक्सफोर्ड हाफ नी रिप्लेममेंट भी करते हैं। शुक्रवार को उन्होंने वेलमेड़ हॉस्पिटल में अर्थराइटिस, हड्डी व जोड़ रोगों से पीड़ित लोगों की जांच की। उन्होंने डॉ. चेतन शर्मा का शक्रिया अदा करते हुए कहा कि देहरादून में अपनी सेवाएं देकर उन्हें बहुत खुशी हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

मुख्यमंत्री ने कहा कि सेम्पल टेस्टिंग में पहले की तुलना में काफी सुधार किया गया 

देहरादून। कोरोना संक्रमण के शुरूआत में राज्य में एक भी टेस्टिंग लेब नहीं थी जबकि ...

भारतीय युवाओं का बनाया गया खास वेब ब्राउजर ‘मैगटैप’ चीनी एप्स को दे रहा कड़ी चुनौती

देहरादून। चीन से झड़प और भारतीय जवानों के शहादत के बाद से ही भारत में ...